राहु पांचवें घर में (Rahu in fifth house)

राहु पांचवें घर में (Rahu in fifth house)

वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार कुंडली(Kundli) के पांचवें घर(Fifth House) में बैठा राहु(Rahu) व्यक्ति को क्रिएटिव बनाता है और इन्वेस्टमेंट से फायदा दिलाता है| लेकिन संतान के मामले में ठीक नहीं माना जाता | कुछ न कुछ समस्या जरूर आती है , या तो संतान देर से होती है या कई बार देखा गया है कि महिलाओं को गर्भपात (मिसकैरेज ) जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है । ऐसा व्यक्ति कठोर हृदय वाला और कुक्षि (पेट से नीचे का भाग) में रोग वाला हो सकता है ।कई बार देखने में आया है ऐसा व्यक्ति नाक से बोलता है । अगर कुंडली(Kundli) में दूसरे ग्रहों का योग अच्छा हो तो बहुत ही बुद्धिमान, उदार और भाग्यशाली संतान होती है ।

कुंडली(Kundli) में पांचवें घर(Fifth House) के राहु(Rahu) की स्थिति व्यक्ति को कलात्मक व्यवसाय की तरफ ले जाती है | नाटक,सिनेमा गायन या संगीत में जबरदस्त सफलता दिला सकती है ।ख़ास बात ये है कि यहां बैठा राहु(Rahu) व्यक्ति को जुए और सट्टे की तरफ ले जा सकता है| हर तरह के व्यसन और शौक पालने वाला व्यक्ति हो सकता है । प्रेम संबंधों के मामले में ऐसा व्यक्ति अनाड़ी भी हो सकता है । राहु(Rahu) का आपके लिए सन्देश है कि आपको प्रेम अभिव्यक्ति की अपनी भावनाओं को उजागर करना सीखना होगा | रचनात्मक क्षेत्र की तलाश करनी होगी और उसमे संघर्ष करना होगा । वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार राहु(Rahu) भ्रम और माया का कारक ग्रह(Grah) है| इसलिए बहुत संभव है ये व्यक्ति को कल्पनाशील बनाने के साथ साथ दिन में सपने देखने वाला भी बना सकता है।

वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार राहु(Rahu) मृगमरीचिका की तरह व्यवहार करता है| जिस तरह गर्मियों में दूर रास्ते में पानी नज़र आता है लेकिन जब हम नज़दीक जाते हैं तो पानी नहीं होता ये सिर्फ भ्र्म होता है| उसी तरह यंहा बैठा राहु(Rahu) व्यक्ति को सपने तो दिखाता है लेकिन सच में कितने साकार होंगे ये बाकी के ग्रहों पर निर्भर करता है । इसलिए यंहा बैठे राहु(Rahu) का आपके लिए सन्देश है कि आप सपनो और असल ज़िन्दगी के बीच के फर्क को समझें| वास्तविक जीवन में धरातल पर काम करें , संघर्ष करें उसके बाद ऊपर बताये गए कलात्मक क्षेत्रों में सफलता निश्चित है ।कुंडली(Kundli) में पांचवें घर(Fifth House) का राहु(Rahu) रोमांस और सामाजिक रिश्तों में बहुत कठिनाई दे सकता है| कारण है आपकी अभिव्यक्ति , क्योंकि या तो आपका व्यवहार बहुत की विनम्र होता है या बहुत ही कठोर |

वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार कुंडली(Kundli) के पांचवें घर(Fifth House) से आत्मा , मंत्री , टैक्स, श्रुति-स्मृति (ज्ञान) , विद्या , पेट, मनोरंजन, बच्चे, प्रारब्ध , क्रिएटिविटी आदि का विचार किया जा सकता है | यहाँ बैठे राहु(Rahu) के कारण आप व्यावहारिक नहीं बन पाते, आप मूडी हो सकते हैं| इसलिए सामने वाला आपको इग्नोर कर सकता है या आप उसका भरोसा खो सकते हैं । यंहा राहु(Rahu) का साफ़ सन्देश है कि अगर जीवन में संतुलन चाहते हैं तो आपको सपनों और वास्तविकता में अंतर करना सीखना होगा । आपके मन में जो द्व्न्द चलता है जो टकराव है , वो भी सपनो और वास्तविक जीवन के बीच का टकराव ही है जो आपको बेचैन रखता है| हालाँकि आप मन की अनंत गहराइयों में डूबते उतरते रहते है| सवालों के जवाब ढूंढते है आत्म विश्लेषण भी करते हैं , लेकिन आपकी ईगो और परसेप्शन आपको फिर सतह पर ले आते हैं, यही तो टकराव है ।

यहाँ बैठे राहु(Rahu) के कारण आप परिस्थितियों को दोष दे सकते हैं| लेकिन संक्षेप में कहें तो आपको सपनो को एक रचनात्मक इच्छा बनाकर, वास्तविक जीवन में उसे साकार करने के लिए संघर्ष करना होगा| तभी ये बेचैनी भी दूर होगी, शंका भी दूर होगी और सफलता भी मिलेगी ।वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार कुंडली(Kundli) के पांचवें घर(Fifth House) से विद्या , एंटरटेनमेंट और प्रस्तुति का विचार किया जाता है| इसलिए अपने आप को खुलकर प्रस्तुत करना सीखें । विचार और भावनाएं मिलकर इस घर का निर्माण करती हैं |आप जो विचारते हैं वही बनते चले जाते हैं| देखा जाये तो मनुष्य ऊर्जा का एक पिंड है जो प्रतिक्रिया देता है |इसलिए जब भी आप इंटरेक्शन करते हैं तो विचारों और भावनाओं में साफगोई लाने की कोशिश करें| और दूसरे की प्रतिक्रिया का इंतज़ार करें ऐसा करने से निश्चित ही आपको फायदा मिलेगा , ये आपके लिए मूल मन्त्र है ।

संक्षेप में कहे तो आपको भौतिक सुख मिलेगा, कलात्मक क्षेत्र में सफलता मिलेगी, जुआ, सट्टा ,लाटरी या स्टॉक मार्किट से फायदा मिलेगा , लेकिन इसके लिए आपको सपनो और वास्तविक जीवन की सीमा रेखा को पहचानना होगा ,अपने व्यवहार में साफगोई लानी होगी और अभिव्यक्ति की कला को सीखना होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »