मीन राशि (Pisces Zodiac Sign)

मीन राशि (Pisces Zodiac Sign)

वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार कुंडली(Kundli) के पहले घर में मीन(Pisces) राशि(Rashi) हो या कुंडली में चन्द्रमा(Moon) मीन(Pisces) राशि(Rashi) में हो तो ऐसा जातक बृहस्पति(Jupiter) ग्रह से प्रभावित होता है |राशि(Rashi) चक्र में बारहवीं और अंतिम मीन(Pisces) राशि(Rashi) है | जल तत्व की इस राशि का स्वामी बृहस्पति(Jupiter) है |

कुंडली(Kundli) में चन्द्रमा(Moon) मीन(Pisces) राशि(Rashi) में होने और बृहस्पति(Jupiter) ग्रह से प्रभावित होने के कारण मीन(Pisces) के जातक बहुमुखी प्रतिभा के धनी होते हैं| अहंकार से दूर रिलेशनशिप को निभाने वाले होते हैं| संवेदनशील और कलात्मक प्रवृति के ऐसे जातक अपने ऊपर किसी तरह की पाबन्दी पसंद नहीं करते | ऐसे जातक नए विचारों और एनवायरनमेंट का सम्मान करते हैं |

वैदिक ज्योतिष(Vedic Astrology) के अनुसार बृहस्पति(Jupiter) ग्रह से प्रभावित होने के कारण मीन लगन के जातक स्पष्टवक्ता और दूसरे लोगों का ख्याल रखने वाले होते हैं | ईमानदार और दयालु प्रकृति के ये लोग भावुक होने के कारण अक्सर प्रेम प्रसंग में धोखा खा जाते हैं | कला और संगीत में रूचि रखने वाले ऐसे जातकों को अपने पैरों का खास ध्यान रखना चाहिए साथ ही साथ सूजन और मधुमेह जैसे रोग होने का खतरा बना रहता है |

कुंडली(Kundli) में चन्द्रमा(Moon) मीन(Pisces) राशि(Rashi) में होने के कारण ऐसे लोग अत्यधिक भावुक हो सकते हैं| अत्यधिक भावुक होने के कारण आपको भावनात्मक रोग होने की सम्भावना भी बनती है इसीलिए आपको आसानी से भ्रमित किया जा सकता है | व्यावहारिक, संवेदनशील और दूरदर्शी होने के बावजूद आप कट्टरवादी हो सकते हैं | तर्क की बजाय अपनी समझ से ही बातों को समझ लेते हैं | उदार और शर्मीले स्वाभाव के कारण आपको कई बार गलत समझ लिया जाता है |

Post Tagged with

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »